बाला फिल्म का प्रमोशन करने दिल्ली में आए आयुष्मान खुराना, भूमि पेडनेकर और यामी गौतम

0
280

नई दिल्ली: 8 नवंबर 2019 को रिलीज होने जा रही फिल्म ‘बाला’ के टॉप स्टारकास्ट- आयुष्मान खुराना, भूमि पेडनेकर और यामी गौतम दिल्ली के द इंपीरियल होटल में अपनी फिल्म का प्रमोशन करने आए। इस सिलसिले में मीडिया ने उनसे कुछ सवालात किए और उन सवालों के समक्ष उन्होंने फिल्म से जुड़े अनुभव मीडिया वालों से साझा किए।

बता दें कि ‘बाला’ अमर कौशिक द्वारा निर्देशित और दिनेश विजान द्वारा निर्मित एक सटायर फिल्म है। इस फिल्म में आयुष्मान खुराना को एलोपेसिया से पीड़ित दिखाया गया है जिसके कारण उनके आत्मविष्वास की कमी और सामाजिक दबाव को दर्शाया गया है। फिल्म में सहायक भूमिकाओं में हैं भूमि पेडनेकर, यामी गौतम, जावेद जाफरी और सौरभ शुक्ल।

मीडिया को आयुष्मान ने कहा कि, ‘मुझे इस फिल्म को करते वक़्त अलग दिखने के लिए मेकअप के समय करीब ढाई घंटे लगते थे। उन्होंने कहा कि मुझे एक रोगी बनने के लिए लगभग 4-5 दिन लग गए। दूसरी बात यह है कि इस रोल को निभाने के लिए दर्षकों की एक अलग सहानुभूति की भी जरूरत थी।’

भूमि ने भी अपने चरित्र के बारे में कहा कि ’इसमें मेरे किरदार का नाम है निकिता, जिसने खुद को बहुत ही अच्छी तरह से तैयार किया है, क्योंकि बचपन से ही उसे अपने ष्याम रंग के बारे में काफी ताने और टिप्पणियां सुनने को मिली हैं। ऐसे में वह रंग के बारे में लोगों के सोचने के तरीके को बदलने के लिए एक अलग ही यात्रा पर है।’ उन्होंने यह भी कहा, ‘मेरे निजी जीवन में भी, मेरे पास ऐसे दोस्त हैं जो इस भेदभाव से गुज़रे हैं और उनकी त्वचा के रंग के कारण उनके जीवन में कई समस्याओं का सामना करना पड़ा है।’

यामी ने फिल्म में अपनी भूमिका के बारे में बताया, ‘फिल्म में मैं एक छोटे शहर की लड़की की भूमिका निभा रही हूं, जिसका नाम परी है। वह अपनी ही दुनिया में रहती है और एक टिक टॉक स्टार है। वह खुद को बहुत खूबसूरत मानती है और वह खुद के बारे में इससे ज्यादा बहुम कुछ नहीं सोचती है। वह खुद को एक परी से कम, लेकिन शारीरिक सुंदरता के बारे में समाज की निर्धारित दकियानूसी सोच को तोड़ने की कोशिश भी करती है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here